Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

Megamenu

Last Updated : 08-07-2020

राष्ट्रीय उद्यमिता पुरस्कार (एनईए)

उद्यमिता के लिए युवाओं में सांस्कृतिक बदलाव को उत्प्रेरित करने के लिए महत्वपूर्ण कदम के रूप में, कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने उत्कृष्ट युवा पहली पीढ़ी के उद्यमियों और पारिस्थितिकी तंत्र निर्माताओं के द्वारा उद्यमिता विकास हेतु किये गए उनके उत्कृष्ट योगदान को पहचानने और सम्मानित करने के लिए राष्ट्रीय उद्यमिता पुरस्कार (एनईए) की स्थापना की है।

एनईए कार्यक्रम की शुरुआत 2016 में की गई थी और 2017 एवं 2018 में भी यह जारी रहा। राष्ट्रीय उद्यमिता पुरस्कार (एनईए) 2019 एनईए श्रृंखला का चतुर्थ संस्करण था।

एनईए संपूर्ण भारत से राष्ट्रीय उद्यमिता पुरस्कार में युवा उद्यमियों और उद्यम पारिस्थितिकी तंत्र निर्माताओं की भागीदारी चाहता है। यह भविष्य की पीढ़ियों और भारत के युवाओं के बीच उद्यमशीलता की भावना जगाने और इसके लिये उन्हें प्रेरित करने की कोशिश करता है।

एनईए 2019 के अंतर्गत 40 वर्ष की आयु तक के युवा उद्यमियों और उद्यम पारिस्थितिकी तंत्र निर्माताओं, जो विभिन्न सेक्टरों, भौगोलिक क्षेत्रों और सामाजिक-आर्थिक पृष्ठ भूमि से आते हैं, को कुल 39 पुरस्कार प्रदान किए गए। इस पुरस्कार का उद्देश्य दूसरों के लिए उत्कृष्टता के मॉडल को लोगों के सामने पेश कर उन्हें सुधर के लिए प्रेरित करना है।

विजेताओं को 9 नवंबर, 2019 को आयोजित भव्य पुरस्कार समारोह में ट्रॉफी, प्रमाणपत्र और 5 लाख रुपए उद्यमों / उद्यमियों को और 10 लाख रुपए संगठनों / संस्थानों को नकद राशि के रूप में प्रदान किये गए।


अधिक जानकारी के लिए कृपया वेबसाइट http://neas.gov.in.देखें।