Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

Megamenu

Last Updated : 22-09-2020

कौशलाचार्य पुरस्कार

कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय (एमएसडीई) ने 10 सितंबर, 2020 को कौशलाचार्य समादर के दूसरे संस्करण के लिए एक डिजिटल कॉन्क्लेव का आयोजन किया। विभिन्न क्षेत्रों के प्रशिक्षकों को देश का कौशलीकरण ईकोसिस्टम निर्माण और भविष्य के लिए तैयार कार्यबल को तैयार करने में उनके असाधारण योगदान के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने देश के प्रशिक्षकों को उनके द्वारा निरंतर किए जा रहे कठिन परिश्रम की सराहना करते हुए और आज के युवाओं की आकांक्षाओं को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए उपयुक्त कौशल प्रशिक्षण के साथ जीवंत बनाए रखने की सराहना करते हुए उन्हें संबोधित किया।

इस डिजिटल कॉन्क्लेव में उद्यमशीलता प्रशिक्षण, राष्ट्रीय शिक्षुता प्रोत्साहन स्कीम (एनएपीएस), जन शिक्षण संस्थान (जेएसएस), प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) के तहत अल्पावधि प्रशिक्षण, प्रशिक्षण महानिदेशालय (डीजीटी) के तहत दीर्घावधि प्रशिक्षण और औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) जैसे विभिन्न श्रेणियों के भौगोलिक क्षेत्रों में विविध पृष्ठभूमि के कुल 92 प्रशिक्षकों को सम्मानित किया गया।

उद्यमशीलता प्रशिक्षण श्रेणी के तहत, 3 उम्मीदवारों को उनके उद्यमशीलता प्रशिक्षक जॉब रोल के लिए, 15 उम्मीदवारों को जेएसएस के तहत परिधान प्रशिक्षण, सौंदर्य वेलनेस और स्वास्थ्य देखभाल प्रशिक्षण, हस्तशिल्प प्रशिक्षण और अधिक में उनके जॉब रोल के लिए पुरस्कार दिए गए। इसके अलावा, 14 प्रशिक्षकों को इलेक्ट्रॉनिक्स और हार्डवेयर प्रशिक्षण, परिधान प्रशिक्षण, लॉजिस्टिक्स प्रशिक्षण और अन्य में उनके योगदान के लिए अल्पावधि प्रशिक्षण के तहत सम्मानित किया गया। 44 उम्मीदवारों को दीर्घावधि प्रशिक्षण के तहत सम्मानित किया गया और 15 कॉरपोरेट्स को राष्ट्रीय शिक्षुता संवर्धन स्कीम (एनएपीएस) के लिए उनके योगदान के लिए पुरस्कृत और सम्मानित किया गया।

कौशलाचार्य समादर
कौशलाचार्य समादर
कौशलाचार्य समादर