Megamenu

कौशल विकास और उद्यमशीलता के क्षेत्रीय निदेशालय (आरडीएसडीई)

कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय, भारत सरकार ने कौशल प्रशिक्षण और शिक्षुता प्रशिक्षण में और सुधार करने और राज्य स्तर पर इन कार्यक्रमों का प्रभावी एकीकृत विकास और निगरानी सुनिश्चित करने के लिए दिसंबर 2018 में एक नई शुरूआत की थी। सावधानीपूर्वक विचार करने के बाद, प्रत्येक राज्य/संघ राज्य क्षेत्र के लिए क्षेत्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता निदेशालय (आरडीएसडीई) स्थापित करने का निर्णय लिया गया। पूरे भारत में स्थित तत्कालीन क्षेत्रीय शिक्षुता प्रशिक्षण निदेशालय (आरडीएटी) की भूमि और भवनों सहित उसकी मौजूदा गतिविधियां, कर्मचारी, परिसंपत्तियां और देनदारियां प्रस्तावित आरडीएसडीई के अंतर्गत आ जाएंगी और इस प्रकार आरडीएटी के कार्यालय मौजूद नहीं रहेंगे। तथापि, मौजूदा सेंट्रल फील्ड इंस्टीट्यूट्स अर्थात राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान (एनएसटीआई)/एनएसटीआई (डब्ल्यू) संबंधित आरडीएसडीई के तहत एकीकृत अधीनस्थ इकाई होंगे। आरडीएसडीई के प्रमुखों को क्षेत्रीय निदेशक के रूप में जाना जाएगा। आरडीएसडीई मंत्रालय के सम्बद्ध कार्यालय होंगे।

क्षेत्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता निदेशालय (आरडीएसडीई)- राजपत्र अधिसूचना pdfडाउनलोड

क्षेत्रीय कौशल विकास और उद्यमशीलता निदेशालय (आरडीएसडीई)- शुद्धिपत्र और परिशिष्ट pdfडाउनलोड

आरडीएसडीई की सूची pdfडाउनलोड